Spread the love

वन पर्यावरण संरक्षण को बल देते हैं किसी भी क्षेत्र में वनों के संरक्षण और विस्तार के लिए स्थानीय जनता का पौधारोपण कार्यों में सहयोग महत्वपूर्ण होता है  यह बात विधानसभा अध्यक्ष कुलदीप सिंह पठानिया ने भटियात विधानसभा क्षेत्र के ग्राम पंचायत गड़ाना के गाँव भराडी में 74वें मंडल स्तरीय वन महोत्सव के उपलक्ष्य  पर वन मंडल डलहौजी की ओर से आयोजित पौधारोपण कार्यक्रम में बतौर मुख्यातिथि शिरकत कर अपने संबोधन में कही |

विधानसभा अध्यक्ष कुलदीप सिंह पठानिया ने चंपा प्रजाति  का पौधा भी रोपित कर 74वें वन मंडल स्तरीय महोत्सव का शुभारंभ किया  और  डलहौजी वन मंडल डलहौजी  के आधिकारिक फेसबुक पेज  को लॉन्च किया। जिसमें चंबा शहर की  ऐतिहासिक पृष्ठभूमि से जुड़े  व विशेष सुगंध की पहचान रखने वाले  चंपा के पौधे के संरक्षण व संवर्धन को मजबूती प्रदान करने को इंगित किया गया है |

उन्होंने कहा की समाज के विभिन्न वर्गों को हरित आवरण के विस्तार   के लिए सरकार द्वारा वानिकी क्षेत्र में अनेक नई योजना चलाई जा रही है। वन महोत्सव लोगों को पेड़ लगाने के लिए प्रोत्साहित करके पर्यावरण संरक्षण को मजबूती देने,परिस्थितिक सन्तुलन बनाये रखने में पेड़ों के महत्व के बारे में अधिक जागरूक करने का अवसर होता है। उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि हर परिवार अपने खुशी के मौके पर पौधा रोपण अवश्य करें और नई   पीढ़ी को भी पौधरोपण के लिए प्रेरित करें।

 इस अवसर पर कार्यक्रम में मौजूद अधिकारियों व स्थानीय लोगों के सहयोग से वन भूमि पर विभिन्न प्रजातियों के 400 पौधे रोपित किए गए। 

 भाराड़ी गांव में जनसभा को संबोधित करते हुए विधानसभा अध्यक्ष कुलदीप पठानिया ने कहा कि डलहौजी वन मंडल में इस वर्ष 174.67हेक्टेयर वन भूमि में विभिन्न प्रजातियों के  लगभग 1 लाख 61 हजार पौधे रोपित किए जा रहे हैं जिसमें 80% रोपण का कार्य पूर्ण कर लिया गया है। उन्होंने कहा कि वृक्षरोपण से पर्यावरण को सुरक्षित करने के साथ-साथ पौधों से जंगली जानवरों के भोजन की जरूरत और इंसानों की जीवन यापन में भी सहायक सिद्ध होते हैं। 

उन्होंने कहा कि विधानसभा क्षेत्र भटियात के हर गाँव को सड़क सुविधा  के साथ जोड़ा जा रहा है। उन्होंने इस बात पर भी बल देते हुए कहा की मुख्य मार्गों के साथ-साथ वैकल्पिक मार्गों को और अधिक बेहतर बनाने के लिए डीपीआर रिवाइजड की जाएगी ताकि ग्रामीण क्षेत्रों को मजबूत  सड़क नेटवर्क से जोड़ा जा सके। उन्होंने कहा कि सिहुन्ता- लहाडू मुख्य मार्ग को डबल लेन किया जा रहा है जिस पर 58 करोड़ की धनराशि व्यय होगी। उन्होंने कहा कि नारगला व कालीघार के प्रभावी  व स्थाई रूप से  रोकथाम के लिए तकनीकी विशेषज्ञों की राय भी ली जा रही है। 

इसके पश्चात विधानसभा अध्यक्ष ने ग्राम पंचायत गड़ाना के पंचायत घर के प्रागन में लोगों की समस्याओं को भी सुना। उन्होंने अधिकतर समस्याओं का मौके पर ही समाधान किया तथा शेष समस्याओं के समाधान के लिए मौजूद सम्बंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये। इस  दौरान स्थानीय लोगों  के द्वारा रखी गई मांग को समय रहते पूर्ण करने के लिए आश्वस्त भी किया। 

वन मंडल अधिकारी रजनीश महाजन ने विधानसभा अध्यक्ष कुलदीप सिंह पठानिया को शाल टोपी व स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया और उन्होंने वन मंडल डलहौजी द्वारा विभाग की विभिन्न क्रियान्वित गतिविधियों से अवगत करवाते हुए कहा कि बीज बुआई सप्ताह के के तहत एक क्विंटल से अधिक विभिन्न प्रजातियों के बीज, मियांवाकी विधि से नरूला गांव में 6 बीघा में दस हजार विभिन्न प्रजातियों के बीज रोपित किये। 

इस अवसर पर प्रधान ग्राम पंचायत गड़ाना,प्रधान एवं महिला कांग्रेस अध्यक्ष भटीयात शालू शर्मा, प्रधान ग्राम पंचायत हुवार विजय कुमार, उपाध्यक्ष  भाटियात कांग्रेस कमेटी किशन चंद  चेला, निदेशक राज्य सहकारी बैंक राम सिंह तथा एसडीम पारस अग्रवाल, अधिशासी अभियंता विद्युत विभाग पंकज राठौर, अधिशासी अभियंता जल शक्ति राकेश ठाकुर, अधिशासी अभियंता लोक निर्माण विभाग हर्ष पुरी व सहायक वन अरण्यपाल रवि व विभिन्न विभागों के अधिकारियों सहित सैकड़ो ग्रामीण भी मौजूद रहे  |

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *