Spread the love

उपायुक्त एवं जिला निर्वाचन अधिकारी अपूर्व देवगन ने जानकारी देते हुए बताया कि भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार निर्वाचक नामावली को शुद्ध एवं त्रुटि रहित व अद्यतन बनाए रखने के लिए बीएलओ के माध्यम से अपने मतदान क्षेत्र के अंतर्गत घर-घर जाकर फोटोयुक्त मतदाता सूचियों में विद्यमान प्रविष्टियों के सत्यापन का कार्यक्रम किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि यह विशेष कार्यक्रम 21 अगस्त तक चलेगा।
कार्यक्रम की गतिविधियों के तहत घर के मुखिया की सहायता से बूथ लेवल अधिकारी यह सुनिश्चित करेगा कि परिवार के समस्त सदस्य का नाम मतदाता सूची में दर्ज है तथा दर्ज समस्त सदस्यों का विवरण सही है। यदि निर्वाचक की प्रविष्टि में किसी प्रकार की कोई अशुद्धि हो तो उसे ठीक करवाने के लिए प्रारूप-8 के माध्यम से कार्यवाही की जाएगी।
अपूर्व देवगन ने बताया कि 1 अक्टूबर 2023 की अहर्ता तिथि के आधार पर पंजीकरण के लिए छूटे हुए योग्य नागरिकों की पहचान कर उनके नाम मतदाता सूची में सम्मिलित करने हेतु आवश्यक कार्यवाही की जाएगी। इसके अतिरिक्त 1 जनवरी 2024 की अहर्ता तिथि के आधार पर भावी मतदाताओं के साथ-साथ ऐसे भावी मतदाता जो अगली तीन तिमाहियों 1 अप्रैल 2024, 1 जुलाई 2024 और 1 अक्टूबर 2024 को योग्य होंगे की भी जानकारी प्राप्त करेंगे।

कार्यक्रम में एक से अधिक स्थान पर दर्ज, मृत व स्थाई रूप से स्थानांतरित व दोहरे पंजीकृत मतदाताओं की पहचान कर उनके नाम मतदाता सूची में अपमार्जिन करने हेतु प्रारूप-7 के माध्यम से बीएलओ कार्रवाई करेंगे। इसी तरह इस दौरान मतदाता सूचियों में विद्यमान खराब गुणवत्ता वाली फोटो की पहचान कर संबंधित मतदाता से नवीनतम रंगीन फोटो प्राप्त कर प्रारूप – 8 के माध्यम से परिवर्तित करने की कार्यवाही करेंगे।
उपायुक्त ने समस्त जिला के नागरिकों से आह्वान भी किया है कि वे बूथ लेवल अधिकारियों द्वारा घर-घर जाकर मतदाता सूची के सत्यापन करने में पूर्ण सहयोग करें और इस अवसर का भरपूर लाभ उठाएं।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *